Recent Posts


महिलाओं के पोषण में जरूरी विटामिन -

महिलाओं का शरीर व दिनचर्या पुरूषों की अपेक्षा भिन्न होने के कारण, उनके स्वास्थ्य की आवश्यकता भी भिन्न होती है | आयु के परिवर्तन के साथ -साथ महिलाओं में बहुत से शारिरीक व मानसिक परिवर्तन तथा उससे जुड़े परिवर्तन भी झेलने पड़ते हैं | जैसे कि - स्तन का विकास, गर्भाशय का विकास जिसमें माहवारी चक्र के मासिक पीड़ा से महिलाओं को लम्बे समय तक झेलना पड़ता है | प्रजनन प्रक्रिया के महत्वपूर्ण चरण से गुजरना  व उसके 9 महीने के असहज परिवर्तन व प्रसव पीड़ा को झेलना सहज नही होता है | एक स्त्री किशोरावस्था से ही अपने शरीर को बहुत से शारिरीक व मानसिक परिवर्तनों से जुड़े दर्द को झेलती है |ऐसे में यदि उनके शरीर को आवश्यक व पूरक आहार तथा पोषण प्राप्त नहीं कराया जाता है तो वह अनेक कठिनाइयों का सामना कर सकती है |

जैसे - स्तन कैंसर, बालों का झड़ना, ल्यूकोरिया, गर्भ का कमजोर होना, घुटनों की समस्या, योनि संक्रमण,
शारिरीक दुर्बलता, यौन विकार, मानसिक विकार ,आदि अनेक बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है |

जाने महिलाओं के लिए जरूरी विटामिन व उसके फायदे

आयरन - शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण के लिए आरयन बेहद आवश्यक होता है, जिससे शरीर में उर्जा को बनाए रखता है और खून की कमी नहीं होने देता। इसके अलावा मस्तिष्क को सुचारू रूप से र्का करने के लिए आयरन को अपनी डाइट में शामिल करना बहुत जरूरी है।

 कैल्शियम - हड्डियों को मजबूत रखने और ब्लडप्रेशर को नियंत्रित कर सामान्य बनाए रखने के लिए शरीर में कैल्शियम की आवश्यकता होती है। इसके अलावा कैल्शि‍यम प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम के खतरे को भी कम करता है। यह दांतों और नाखूनों को मजबूत रखने के लिए जरूरी होता है।

 फॉलिक एसिड - फॉलिक एसिड महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर और कोलोन कैंसर की संभावनाओं को कम करता है। इसके अलावा यह गर्भावस्था के शुरूआती महीनों में ही सेहत के लिए आवश्यक होता है। हरी सब्ज‍ियां, खास तौर से पालक, दाल व शतावरी के सेवन से फॉलिक एसिड की पूर्ति की जा सकती है।


विटामिन बी 6 - यह विटामिन आपकी नींद और भूख को नियंत्रित करने में मदद करेंगा। साथ ही आपके नर्वस सिस्टम को सुचारू रूप से काम करने में बेहद सहायक सिद्ध होगा। यह आपके मूड को भी बेहतर बनाए रखेगा। शकरकंद, केले जैसी चीजें इसकी पूर्ति में आपकी मदद सकती हैं।

विटामिन बी12 - यह विटामि‍न आपको अत्यधि‍क थकान से बचाने में सहायक होगा। इसके अलावा यह लाल रक्त कोशि‍काओं, हीमोग्लाबिन के निर्माण में भी सहायक है। दही और अंडे को अपनी डाइट में शामिल कर आप इसकी पूर्ति कर सकते हैं। अगर आप नॉन वेजिटेरियन हैं, तो मीट कर इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

 विटामिन डी 3 - दांतों, हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाने में यह आपकी मदद करता है। इसके अलावा यह ब्रेस्ट केंसर और गर्भाशय के कैंसर से भी आपकी रक्षा करता है।


विटामिन सी-  विटामिन सी आपकी त्वचा से लेकर बाल, आंखों और पूरे स्वास्थ्य के लिए काफी लाभ्ज्ञदायक होता है। यह रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर रोगों से लड़ने में आपकी मदद करता है।

एंटीक्सीडेंट्स - एंटीऑक्सीडेंट आपको तनावमुक्त बनाए रखने में मदद करेगा। यह झुर्रियों से आपक त्वचा की रक्षा करने में सहायता करता है और आपको जवां बनाए रखने में मदद करता है।

साभार - मनीषा कश्यप

0 comments:

Post a Comment

 
Top